Linux क्या है और इसकी विशेषताएं

हेलो दोस्तों, आज की इस पोस्ट में हम Linux के बारे में बात करेंगे और जानेंगे की यह क्या होता है, इसको कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं और यह Windows से कितना अलग है।


Linux क्या है
Linux क्या है


Linux के बारे में आपके मन में पहले भी कई सवाल उठे होंगे जैसे Linux को कैसे इनस्टॉल करें इसको कैसे Use करें और यह क्यों उपयोगी है अगर आप इन सभी सवालों के जवाब जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को आगे तक जरूर पड़ते रहिये इसमें हम इसी बारे में बात करेंगे। तो आइये जानते है इसके बारे में।


Linux क्या है?

Linux भी Windows की तरह ही एक Operating System है जिसको Linus Torvald जो की एक प्रसिद्द कंप्यूटर इंजीनियर हैं के द्वारा सन 1991 में Develop किया गया था यह एक open-source और फ्री (FOSS) Software है आज कल linux के कई तरह-तरह के Distributions उपलब्ध है। Linux Operating System से हमारा आशय किसी भी Linux Based Distribution से ही है इसके अलावा Linux शब्द का प्रयोग केवल Linux kernal को दर्शाने के लिए भी किया जाता है।


Linux Logo
Linux Logo


क्यूंकि Linux फ्री और open-source है इसलिए इसके source code को GNU General Public License के अंदर किसी भी तरह से कमर्शियल और नॉन-कमर्शियल तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता हैं। GNU लाइसेंस के अंदर आने वाले सॉफ्टवेयर को आप फ्री में अपने हिसाब से मॉडिफाई कर सकते हैं या लोगो और नाम बदल कर बेच भी सकते हैं बस इसमें शर्त यह रहती है की आपके द्वारा मॉडिफाई किया सॉफ्टवेयर भी GNU लाइसेंस के अंदर ही आएगा।


Linux Distributions क्या है?

Distributions को शोर्ट में Distro भी कहा जाता है क्यूंकि यह एक Open Source Operating System है इसी बजह से इसके इतने सारे Distro उपलब्ध है लेकिन इनमे सबमे सबसे पोपुलर Linux Distro Ubuntu है जो की एक काफी अच्छा और Use करने में काफी सरल Distro है यह हमारे लिए फ्री में उपलब्ध है आप इसे इसकी ऑफिसियल वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं इसके अलावा भी कई सारे अच्छे लिनक्स डिस्ट्रो उपलब्ध है जैसे Debian, Fedora, kali linux, Manjaro आदि।

एक Linux Distribution GNU Software और Linux Kernel से मिलकर बना होता है GNU basically बहुत सारे Free (Open Source) Software का एक Collections है जिन्हे हम Parts में किसी भी Operating System के साथ इस्तेमाल कर सकते हैं Linux Distros में Included ज्यादातर Tools जैसे GNU C Library या GNU Bash इसी के पार्ट्स है।


OS (operating system) क्या है?

Operating System जिसे Hindi में प्रचालन तंत्र भी कहते है यह एक System सॉफ्टवेयर होता है जो कंप्यूटर और user के बीच में एक interface का काम करता है हम अपने कंप्यूटर को आदेश Operating System के जरिये ही दे पाते है यह पूरे कंप्यूटर का संचालन करता है। Operating System के बिना कंप्यूटर को इस्तेमाल नहीं किया जा सकता अगर आपको किसी कंप्यूटर से कोई काम करवाना है तो उसमे operating system का होना बहुत जरूरी है।

इसके बिना कंप्यूटर में दुसरे सॉफ्टवेयर भी इनस्टॉल नहीं किये जा सकते क्यूंकि operating system ही दुसरे सॉफ्टवेयर के आदेशो और जानकारी को जरूरी हार्डवेयर के पास पहुचाता है अगर किसी कंप्यूटर में Operating System ना हो तो उसे Start (Boot) भी नहीं किया जा सकता।

Kernel क्या है?

किसी भी Operating System का Kernel उसका वह हिसा या कोड होता है जो सीधे हार्डवेयर से Interact करता है यह OS का सबसे निचे का भाग होता है कंप्यूटर के स्टार्ट करने पर सबसे पहले Operating System का Kernel ही मेमोरी में लोड होता है और उसके बाद कर्नल बाकी के सिस्टम को लोड करता है। कर्नल एक तरह से सॉफ्टवेर और हार्डवेयर के बीच Translator का काम करता है यह आपके सॉफ्टवेर के द्वारा दिए गए आदेशो को हार्डवेयर को देने का काम करता है।


Open-source क्या है?

Open-source का मतलब होता है की आप उपर्युक्त सॉफ्टवेयर के कोड को बदल कर अपने हिसाब से मॉडिफाई कर सकते हैं कहने का मतलब यह है की open-source सॉफ्टवेयर का source कोड सबके लिए आसानी से उपलब्ध रहता है इसे जो चाहे अपने हिसाब से Use और देख सकता है या बदल भी सकता है। इसमें आपको कोई दिक्कत नहीं होती। दुनिया में जितने भी open-source सॉफ्टवेयर है उन सभी को इसी तरह दुनिया भर के डेवलपर Improve करते रहते हैं जिससे ये और भी Reliable और Update होते जाते हैं।



Linux की खुबिया

Linux की ऐसे तो बहुत सारी खुबिया हैं लेकिन हम उनमे से कुछ ही खूबियों के बारे में बात करेंगे जिनके बारे में सबको जरूर जानना चाहिए।


Linux Desktop Screenshot
Linux Desktop Screenshot


Open-source

Linux एक open source OS है जिसका मतलब यह है की इसका Source Code सबके लिए फ्री में उपलब्ध है जिसे कोई भी अपने हिसाब से Use कर सकता है व देख सकता है जिसके जरिये World Wide कही से भी Developers जो Open Source में Contribute करना चाहते हैं वे इसकी फंक्शनलिटी को बड़ा सकते है तथा इसे और भी Improve कर सकते हैं।

Portability

यहाँ Portability से मतलब यह है की linux हर तरह के हार्डवेयर को सपोर्ट करता है इसके कई Light Weight Distributions भी उपलब्ध है जिससे हम इसे पुराने Computers में भी आसानी से Install कर सकते हैं।


Free

Linux GNU GPL License के तहत सबके लिए बिलकुल फ्री में उपलब्ध है इसको आप फ्री में डाउनलोड व इस्तेमाल 
कर सकते हैं।


Multi-User

Linux एक multi user और multi प्रोग्रामिंग Operating System है जिसमे एक साथ एक से ज्यादा यूजर कंप्यूटर के हार्डवेयर को एक्सेस व इस्तेमाल कर सकते हैं।


Multi -Tasking

Multi-Tasking का मतलब है इसमें एक user एक साथ एक से ज्यादा प्रोग्राम, टास्क या सॉफ्टवेर को इस्तेमाल कर सकता है।


Secure

Linux दुसरे Operating Systems जैसे Windows आदि के मुकावले काफी ज्यादा सुरक्षित है।



Linux और Windows में अंतर

वैसे तो हमें इन दोनों OSes को compare नहीं करना चाहिए क्यूंकि दोनों अपनी अपनी जगह ठीक ही हैं और दोनों के अपने अपने उपयोग भी हैं लेकिन फिर कुछ चीज़े है जो आपको जरूर जाननी चाहिए।
  • Linux एक फ्री ऑपरेटिंग सिस्टम है और Windows के लिए आपको पैसे देने पड़ते हैं।
  • Linux एक open source है जबकि विंडोज एक closed source (Proprietary) OS है इसका Source Code सबके लिए उपलब्ध नहीं है।
  • Linux कई सारे रूपों में उपलब्ध है जिन्हे हम Distro कहते है जिसमे से आप अपनी जरूरत के हिसाब से चुन सकते हैं। Windows का फिलहाल एक ही रूप उपलब्ध है।
  • Linux किसी भी हार्डवेयर पर चल जाता है लेकिन Windows को थोडी अधिक मेमोरी चाहिए होती है।


दोस्तों, आज की Post में हमने Linux क्या है इसके क्या फायदे या खूबियां है इस बारे में बिस्तार से जाना और साथ ही हमने Windows और Linux के बीच अंतर भी जाने। हमें पूरी उम्मीद है की आपको यह Post पसंद आई होगी। अगर आपका इस विषय में कोई भी सवाल या सुझाब है तो हमें निचे comment करके जरूर बताएं और साथ ही इस Post को अपने दोस्तों के साथ भी जरूर Share करें।

10 टिप्‍पणियां:

  1. I like Hindi blogs.. i am CSE stdeunt so i learned linux in college...Iwould like to see a post about the shell scripting..................

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. जी जरूर, suggestion देने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यबाद

      हटाएं
  2. बहुत अच्छा ज्ञान बाटा सर आज अपने ।।
    सुनकर और जानकार अच्छा लगा ।

    जवाब देंहटाएं